Uttarakhand Polyhouse Yojana 2024: किसानों को मिलएगे पॉलीहाउस निर्माण के लिए 70% सब्सिडी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Uttarakhand Polyhouse Yojana 2024: उत्तराखंड सरकार ने राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में रोजगार और किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए “उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना” शुरू की है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस योजना के लिए 304 करोड़ रुपये की मंजूरी दी है। इस योजना का उद्देश्य पर्वतीय जिलों में खेती और बागवानी को प्रोत्साहित करना है। पॉलीहाउस तकनीक से किसान विभिन्न फसलों और सब्जियों की खेती कर सकेंगे, जो मौसम की प्रतिकूलता से बचाते हुए बेहतर उत्पादन देगी। सरकार पॉलीहाउस बनाने के लिए सामग्री, तकनीकी और वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। इस योजना से किसानों की उत्पादकता और आय में वृद्धि होगी, जिससे उनका जीवन स्तर सुधरेगा।

Read more:-

Uttarakhand Polyhouse Yojana 2024;

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी द्वारा राज्य के किसानों के लिए उद्यान विभाग की सहायता से “उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना” शुरू की गई है। इस योजना का उद्देश्य राज्य के एक लाख से अधिक किसानों को रोजगार प्रदान करना है। पर्वतीय जिलों में खेती और बागवानी के माध्यम से रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे, जिससे किसानों की आय में वृद्धि होगी। हिमाचल प्रदेश की तर्ज पर शुरू की गई इस योजना के लिए 304 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई है। पॉलीहाउस तकनीक से किसान किसी भी मौसम में फसलों और सब्जियों की अच्छी उपज प्राप्त कर सकते हैं। सरकार द्वारा पॉलीहाउस निर्माण पर सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी, जिससे किसानों को अधिक मुनाफा और आर्थिक आत्मनिर्भरता मिलेगी।

Uttarakhand Polyhouse Yojana 2024: Overview

योजना का नामUttarakhand Polyhouse Yojana
संबंधित विभागउद्यान विभाग  
लाभार्थीराज्य के किसान  
उद्देश्यकिसानों को रोजगार के अवसर प्रदान करना  
लाभकिसानों को पॉलीहाउस स्थापना के लिए 70% अनुदान
राज्यउत्तराखंड  
साल2024 
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन  
आधिकारिक वेबसाइट  https://shm.uk.gov.in/  

Read more:-

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना 2024 का उद्देश्य

उत्तराखंड सरकार द्वारा पॉलीहाउस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसानों को नए रोजगार के अवसर प्रदान करना और उनकी आय में वृद्धि करना है। इस योजना के तहत उत्तराखंड में बेमौसमी सब्जियों और फूलों की खेती को सुरक्षित किया जाएगा। सरकार द्वारा किसानों को पॉलीहाउस लगाने के लिए 70% अनुदान प्रदान किया जाएगा, जो किसानों को वित्तीय रूप से मदद प्रदान करेगा। यह योजना किसानों के जीवन को सुधारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

पॉलीहाउस उत्तराखंड योजना 2024 के फायदे 

  • सरकार करेगी छोटे Polyhouse फल, फूलों, सब्जी की खेती करने में मदद
  • सरकार द्वारा 17648 पॉलीहाउस के निर्माण के लिए 304 करोड़ रुपए का विशेष बजट निर्धारित किया गया है।
  • किसानों को पॉलीहाउस बनाने के लिए 70% सब्सिडी प्रदान की जाएगी, जो उनके लिए वित्तीय समर्थन का स्रोत होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत सब्जियों और फूलों के उत्पादन में 15% से 25% तक की वृद्धि होने की उम्मीद है, जो किसानों की आय में वृद्धि करेगी।
  • किसानों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति में सुधार होगा, जिससे उनका जीवनस्तर बेहतर होगा।
  • यह योजना पर्वतीय क्षेत्रों में पलायन को रोकने में मदद करेगी और स्थानीय बेरोजगारी को कम करने में सहायक होगी।
  • पैदावार लगभग 5 से 10 गुना अधिक होगी।

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना 2024 के पात्रता कौन है?

  • योजना में भाग लेने के लिए आवेदक को उत्तराखंड राज्य का निवासी होना आवश्यक है।
  • केवल राज्य के किसान ही इस योजना का लाभ लेने के योग्य होंगे।
  • आवेदक किसान के पास अपनी जमीन होनी चाहिए।
  • आवेदक को कृषि या बागवानी के क्षेत्र में काम करने का अनुभव होना चाहिए।

UK पॉलीहाउस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि संबंधित दस्तावेज
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना के प्रकार

  • स्वाभाविक पॉलीहाउस – ये प्राकृतिक वायु प्रवाह से तापमान और आद्रता को नियंत्रित करते हैं और उनमें कोई यांत्रिक वेंटीलेशन की आवश्यकता नहीं होती।
  • मल्टी स्पेन पॉलीहाउस – इन पॉलीहाउस में कई स्ट्रक्चर से मिलकर बनाया जाता है और प्रत्येक सेक्शन में अलग-अलग वेंटीलेशन सिस्टम होता है।
  • फैन एंड पैड पॉलीहाउस – ये पंखे और पेट कॉलिंग सिस्टम से गीले पैड के माध्यम से हवा को ठंडा करते हैं और नमी को कम करके स्थिर वातावरण बनाते हैं।

पैड के माध्यम से पंखा हवा खींचता है और इससे ठंडा करता है, नमी को कम करता है। इसलिए ये उन फसलों के लिए उपयुक्त है जिनके लिए अधिक स्थिर वातावरण की आवश्यकता होती है, जैसे कि उच्च मूल्य वाली फसलें जैसे सब्जियां और फूल।

  • कम लागत वाले पॉलीहाउस – इन पॉलीहाउस को बांस, लकड़ी के खंभों और पॉलीथिन शीट से बनाया जाता है और छोटे किसानों के लिए विभिन्न प्रकार की फसलों के लिए उपयोगी होते हैं।
  • शेड नेट पॉलीहाउस – ये पॉलीहाउस शेड नेट से ढके होते हैं और सूर्य के प्रकाश को सीधे कम करने में मदद करते हैं, जिससे फर्न और आर्किड जैसी फसलों को उगाने के लिए उपयुक्त होते हैं।

पॉलीहाउस में उगाई जाने वाली फसलों की सूची

  • स्ट्रॉबेरी
  • काली मिर्च
  • पत्तेदार साग
  • पालक
  • मूली
  • गाजर
  • फूलगोभी
  • माइक्रोग्रीन्स
  • खरबूजा
  • सलाद पत्ता
  • टमाटर
  • खीरा
  • मटर
  • ब्रोकली
  • खरबूजा
  • तरबूज
  • फलिया
  • बैंगन
  • जड़ी बूटियां (तुलसी टकसाल)
  • कद्दू
  • तुरई

पॉलीहाउस 2024 के लिए कितनी जमीन होनी चाहिए?

यदि आप पॉलीहाउस स्थापित करना चाहते हैं, तो इसके लिए प्रति वर्ग मीटर 750 से 1000 रुपये का खर्च आता है। कम से कम एक एकड़ जमीन में पॉलीहाउस बनाए जा सकते हैं। एक एकड़ से कम जमीन में पॉलीहाउस निर्माण की लागत कम होती है। पॉलीहाउस लगवाने का खर्चा इसके आकार, स्थान और गुणवत्ता पर निर्भर करता है।

उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना 2024 मे आवेदन प्रक्रिया 

  • सबसे पहले आवेदक को अपने नजदीकी ब्लॉक कार्यालय या जिला उद्यान कार्यालय में जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको योजना के तहत आवेदन करने हेतु फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको उसमें मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद आपको फॉर्म में मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेजों को एकत्रित करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस वहीं जमा कर देना होगा जहां से आप ने प्राप्त किया था।
  • इस प्रकार आपकी उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। 

Conclusion:- आशा करता हूं, हमारा आर्टिकल आपको बेहद पसंद आया होगा। इस आर्टिकल में हमने आपको उत्तराखंड पॉलीहाउस योजना 2024 के बारे में बताया है। और आप जान गए होंगे। इस योजना के आवेदन प्रक्रिया और पात्रता के बारे में अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा है, तो अपने दोस्तों के पास इसे साझा करें।। धन्यवाद।। 

Leave a Comment